Arjun_cave

अर्जुन गुफ़ा कुल्लू में स्तिथ ऐतिहासिक और प्रसिद्ध पर्टयक स्थान

अर्जुन गुफ़ा हिमाचल प्रदेश के जिला कुल्लू में स्तिथ एक बहुत ही लोकप्रिय और धर्मिक पर्टयक स्थान है। हिमाचल प्रदेश बहुत से ऐतिहासिक धार्मिक स्थान स्तिथ है। जो अपनी लोकप्रियता के लिए देश विदेश में जाने जाते है।

मनाली से यह मंदिर 22 किलोमीटर की दुरी में स्तिथ

इन्ही में से एक है। यह अर्जुन गुफा मंदिर कुल्लू जिले के लोकप्रिय स्थान मनाली से यह मंदिर 22 किलोमीटर की दुरी में स्तिथ है। यह मंदिर लोकप्रिय मंदिर कुल्लू से 24 किलोमीटर और प्रिंसी गांव से इस धार्मिक स्थान की दुरी 11 किलोमीटर की है।

व्यास नदी के किनारे स्तिथ यह खूबसूरत गुफा

यह मनाली के प्रसिद्ध पर्टयक और धार्मिक स्थान नग्गर की और स्तिथ है। यह स्थान व्यास नदी के किनारे स्तिथ है। जो यहां दर्शन करने आये सैलानियों को नदी के खूबूसरत दृश्य प्रदान करती है।

अर्जुन गुफ़ा का निकटतम गाँव प्रिंसी है। यह गाँव काफी हद तक अपनी प्राकृतिक सुंदरता और अपने शांत वातावरण के लिए हमेशा से ही चर्चा में रहता है।

हर साल यहां बहुत से पर्टयक दर्शन के लिए आते है

हिमाचल प्रदेश में स्तिथ यह धार्मिक स्थान अर्जुन गुफ़ा क्षेत्र सैलानियों के आकर्षण का केंद्र बन गया है। हर साल भारी संख्या में श्रदालु यहां दर्शन के लिए आते है। यह स्थान महाभारत की कथा से जुड़ा हुआ है।

जिस कारण इस मंदिर को बहुत ही ऐतिहासिक माना जाता है। हर साल यहां बहुत से पर्टयक दर्शन के लिए आते है। एक ऐतिहासिक और पौराणिक कथा के अनुसार कहा जाता है की अर्जुन की भक्ति से प्रभावित होकर भगवान इंद्र ने उन्हें सबसे शक्तिशाली हथियार पशुपत अस्त्र प्रदान किया था।

आश्चर्यजनक दृश्यों को अर्जुन गुफ़ा से आधे दिन के भ्रमण के लिए देखा जा सकता

यह स्थान मनाली के सबसे उल्लेखनीय पर्यटन स्थलों में से एक माना जाता है। पहाड़ियों और घाटियों के आश्चर्यजनक दृश्यों को अर्जुन गुफ़ा से आधे दिन के भ्रमण के लिए देखा जा सकता है।

यह गुफा अपनी प्राकृतिक सुंदरता और भव्यता की बजह से पर्टयकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यह स्थान पर्टयकों का लोकप्रिय स्थान बन चूका है। इस लिए अपनी कुल्लू मनाली यात्रा में इस स्थान को अवश्य शामिल करे।

कुल्लू में स्तिथ अर्जुन गुफा एक पहाड़ी में एक संकीर्ण रास्ता

देवभूमि कुल्लू में स्तिथ यह अर्जुन गुफ़ा मंदिर के दर्शन करने के लिए सबसे सही समय अप्रैल से जून और सितंबर से अक्टूबर के बिच का माना जाता है। इस दौरान यहां बहुत से पर्टयक घूमने और समय व्यतीत करने के लिए आते है।

कुल्लू में स्तिथ अर्जुन गुफा एक पहाड़ी में एक संकीर्ण रास्ता है। इस स्थान में पर्टयकों को फ्लैशलाइट का उपयोग करके अंधेरे में गुफा में अपना रास्ता खोजना और ढूंढना पड़ता है। यह पूरी गुफा का पता लगाने में लगभग 40 मिनट लगते हैं।

प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर स्थान

यहां के लिए रास्ता हरे भरे घास के मैदान और ऊंचे देवदार के पेड़ों और सीमेंट की सीढ़ियों से होकर गुजरता है जो इस स्थान को और भी ज्यादा आकर्षित बनाते है। यह स्थान बहुत ही रोमांचित और लोकप्रिय है।

यहां की प्राकृतिक सुंदरता यहां आये सैलानियों को भुतही रोमांचित करती है।अपनी हिमाचल यात्रा के दौरान इस स्थान के दर्शन और यहां समय व्यतीत करना ना भूले।

Arjun cave is a historical place in Devbhumi Kullu and popular and famous religious place belonging to Mahabharata period