mobile tower

अपनी जमीन में मोबाइल टावर लगवाना चाहते है तो यह जानकारी है लाभदायक

यदि आप भी मोबाइल टावर अपनी जमीन में लगवाने की सोच रहे हैं तो यह जानकारी आप के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकती है यदि भी अपनी जमीन में मोबाइल टावर

लगाने लगे हो तो सावधान हो जाए। हाल ही मे देश मे बहुत ही तेज़ी से स्कैम और फर्जीवाड़े तरीके बहुत ही अलग-अलग तरीके से स्केम किये जा रहे है।

काफी दिनों से सोशल मीडिया पर एक स्कीम वारयल हो रही यह जानकारी

जिस से बहुत से लोगो को अभी तक चुना लग चुका है। ऐसे मे आपको भी एक सावधानीपूर्वक कार्य लेना होगा। वरना आप भी इन का शिकार बन सकते है। अभी काफी दिनों से सोशल मीडिया पर एक स्कीम वारयल हो रही है।

मोबाइल टावर लगाने के लिए मुख्य तोर पर नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट चाहिए होता है

जिसमे बताया जा रहा है की भारत सरकार के दूससंचार विभाग ने देश मे हर अलग अलग जगह पर मोबाइल टॉवर लगाने की स्कीम जारी की है, इसी के साथ यह भी कहा जा रहा है की किसी भी तरह का कोई नोटिस जारी नहीं किया गया है।

मोबाइल टावर लगाने के लिए मुख्य तोर पर नो-ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट चाहिए होता है।

मोबाइल टावर इंस्टालेशन के लिए कोई NOC जारी नहीं करता

प्राप्त जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है की ट्राई ने मोबाइल पर मेसेज के जरिये सभी को आगाह किया है की मोबाइल टावर इंस्टालेशन के लिए कोई NOC जारी नहीं करता है।

इसी लिए सावधान रहे। अगर इस तरह से कोई आपके साथ फ्रॉड करता है तो आप जल्दी से ही अपने नजदीकी दूरसंचार विभाग मे जाकर उस की शिकायत दर्ज करा सकते है।

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग ने नोटिस जारी किया है

अभी कुछ दिन पहले ही पीआईबी फैक्ट चेक ने अपने ऑफिसियल ट्विटर के ट्वीट करके जानकारी दी थी और साथ ही उन्होंने बताया था की अभी हाल ही मे सभी जगह वारयल न्यूज़ मे यह बताया जा रहा है।

भारत सरकार के दूरसंचार विभाग ने नोटिस जारी किया है जिसमे वो सभी जगह के लिए एनओसी बनवाने के लिए बोल रहा है बल्कि फैक्ट के जरिया विभाग ने दावा किया है की यह सब अफवाह है और कुछ भी नहीं।

आप के फ़ोन में यदि कोई लिंक आता है तो उस पर क्लिक ना करे

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस तरीके के स्कैम होने से खुद भी बचे और दुसरो को भी इस जानकारी दे और सतर्क रहे। दूससंचार विभाग ऐसे कोई सर्टिफिकेट जारी नहीं करता है।
मेसेज के द्वारा भेजते है यह लिंक यदि आप को भी अगर आपके मोबाइल पर मेसेज के

माध्यम से लिंक दी जाती है तो उसको ओपन न करें और उसमे किसी भी तरह की जानकारी न दे दूरसंचार विभाग ऐसे कोई लिंक जारी नहीं करता है तथा ऐसा होने पर इस जानकारी दूरसंचार को दे जिस से आप इस फ्रॉड से बच सकते है।

एक छोटी सी लापरवाही बहुत ही बड़ी साबित हो सकती है

यदि आप को कोई भी व्यक्ति कॉल के जरिये मोबाइल टावर लगाने की सलाह देता है तो किसी को भी जानकारी ना दे। ऐसे सभी तरह के लिंक से बचकर रहे वरना आपकी एक छोटी सी लापरवाही बहुत ही बड़ी साबित हो सकती है स्कैमर लोग आपका बैंक अकाउंट को भी खाली कर सकते है, जिस से आप को बहुत ही हानि हो सकती है। इस लिए सुरक्षित रहे।

जानकारी लेनी है तो आप PIB Fact Check की मदद ले सकते है

यदि अगर आपको किसी भी तरीके की जानकारी लेनी है तो आप PIB Fact Check की मदद ले सकते है। जिस से आप को बहुत सी महत्पूर्ण जानकारी यहां से मिल जायेगी। यह

एक अगर आपके पास किसी भी तरीके से कोई मेसेज लिंक या कोई स्क्रीन शॉट है तो आप ऑफिसियल टोलफ्री नंबर 918799711259 पर संपर्क करके जानकारी दे सकते है।

PIB Fact Check वालो को ईमेल के माध्यम से [email protected] मेल करके जानकारी दे

जिस से उन पर करवाई की जा सकती है। इसी के साथ बताया जा रहा है की उसकी शिकायत दर्ज करवा सकते है साथ ही आप PIB Fact Check वालो को ईमेल के माध्यम

से [email protected] मेल करके जानकारी दे सकते है जिस से अन्य लोगो को इस धोखा धड़ी से बचाया जा सकता है।

If you also want to put a mobile tower in your land, then know this information, otherwise you will regret it later