discovery of electrons

इलेक्ट्रॉन की खोजसबसे पहले किस ने और कब की थी, कौन थे जी. पी. थॉमसन

क्या आप को पता है की इलेक्ट्रॉन की खोज किसने की और कब की थी,नहीं तो डरने की बात नहीं है आप को हमारी इस पोस्ट में इस की पूरी जानकारी मिल जायेगी।

इलेक्ट्रॉन की खोज सबसे पहले जे. जे. थॉमसन ने सन् 1897 में की थी, जानकारी के अनुसार उन्होंने इलेक्ट्रॉन की खोज तब की थी जब वह कैथोड के गुणों का अध्ययन कर रहे थे।

जे. जे. थॉमसन ने 1906 में प्राथमिक कण इलेक्ट्रॉन की खोज के लिए नोबेल पुरस्कार जीता

इसी के साथ जे. जे. थॉमसन ने 1906 में प्राथमिक कण इलेक्ट्रॉन की खोज के लिए नोबेल पुरस्कार जीता भी है। इसी के साथ उनके बेटे जी. पी. थॉमसन ने भी इलेक्ट्रॉन के वेवलिक गुणों को साबित करने के लिए 1937 में नोबेल पुरस्कार जीत कर पर्याप्त किया है। यह जानकारी आप के लिए बहुत ही उपयोगी साबित हो सकती है।

इसी के साथ जे. जे. थॉमसन ने एक ग्लास ट्यूब का निर्माण भी किया था जिसे आंशिक रूप से खाली कर दिया गया था। ऐतिहासिक जानकारी के अनुसार यानी बहुत सारी हवा ट्यूब से बाहर पंप की गई थी। फिर उन्होंने ट्यूब के दोनों छोर पर दो इलेक्ट्रोड के बीच एक उच्च विद्युत वोल्टेज लागू किया साथ ही उन्होंने पाया कि नकारात्मक चार्ज इलेक्ट्रोड (कैथोड) से सकारात्मक चार्ज इलेक्ट्रोड (एनोड) तक कण (किरण) की एक धारा निकल रही थी इसी के साथ उन्होंने इस किरण को कैथोड किरण भी कहा, इस पूरे निर्माण को “कैथोड किरण नली” कहा जाता है।

इलेक्ट्रॉन एक उप-परमाणु कण है

इलेक्ट्रॉन पदार्थ ऊर्जा का एक बहुत छोटा सा टुकड़ा है। जिसका प्रतीक e− है। साथ ही इलेक्ट्रॉन एक उप-परमाणु कण है, इसे एक प्राथमिक कण भी कहा जाता है क्योंकि इसे किसी भी छोटी चीज में नहीं तोड़ा जा सकता है, साथ ही यह नकारात्मक रूप से चार्ज किया गया है।यह प्रकाश की गति पर लगभग बढ़ सकता है।

First of all, who did the discovery of electrons and who was G. P. Thomson