indian-forces-are-in-danger

भारतीय सेनाओं को चीन की ओर से सरप्राइज अटैक किए जाने का खतरा

चीन तथा भारत के साथ चले विवाद को लेकर भारतीय सेनाओं को चीन की ओर से सरप्राइज अटैक किए जाने का खतरा बना हुआ है प्राप्त जानकारी के अनुसार हालांकि आर्मी और इंडियन एयरफोर्स पूरी तरह सतर्क और तैयार बैठे हैं फिर भी दोनों तरफ से युद्ध की स्थिति बनी हुई है।

पूर्वी मोर्चों की निगरानी भी मौजूदा राफेल विमानों को सौंपे जाने की तैयारी

साथ ही वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए फिलहाल पूर्वी मोर्चों की निगरानी भी मौजूदा राफेल विमानों को सौंपे जाने की तैयारी कर ली गई है जिस वजह भारतीय वायु सेना भी पूरी तरह से तैयार है।

अंबाला एयरफोर्स स्टेशन में तैनात की गई राफेल की गोल्डन एरो स्क्वाड्रन ही पूर्वी मोर्चों की निगरानी

इसी के साथ लड़ाकू विमान राफेल की अगली खेप आने तक अंबाला एयरफोर्स स्टेशन में तैनात की गई राफेल की गोल्डन एरो स्क्वाड्रन ही पूर्वी मोर्चों की निगरानी करेगी साथ ही बताया जा रहा है की यहां से उड़ान भरकर राफेल सेंट्रल एयर कमांड समेत पूर्वी मोर्चों पर स्थित रणनीतिक एयरफोर्स स्टेशनों का दौरा करते रहेंगे।

चीन द्वारा खुराफात किए जाने की आशंका अभी बरकरार

साथ ही लद्दाख रीजन में एलएसी पर चीन सैनिकों द्वारा की जा रही हरकतों के साथ-साथ पूर्वी मोर्चों पर भी चीन द्वारा खुराफात किए जाने की आशंका अभी बरकरार है भारत चीन विवाद को लेकर स्थिति बहुत ही नाजुक बनी हुई है।

इसलिए वेस्टर्न एयर कमांड के अधीनस्थ राफेल विमान की स्क्वाड्रन ही पूर्वी मोर्चों की भी निगरानी करती रहेगी।

02 राफेल विमान लद्दाख रीजन में एलएसी की निगरानी में लगाए जा चुके

प्राप्त जानकारी के अनुसार अंबाला में तैनात 02 राफेल विमान लद्दाख रीजन में एलएसी की निगरानी में लगाए जा चुके हैं इसी के साथ बताया जा रहा है कि 02 विमानों को पूर्वी मोर्चों पर निगरानी का जिम्मा दिया गया है।

साथ ही ये दोनों विमान अपनी एक्सरसाइज के दौरान कुछ दिनों के अंतराल पर सेंट्रल एयर कमांड के साथ-साथ ईस्टर्न एयर कमांड के कुछ रणनीतिक एयरफोर्स स्टेशनों का दौरा करते रहेंगे।

Indian forces are in danger of being attacked by China, Indian Air Force fully prepared