random-access-memory

Computer में RAM क्या होती है और यह कितने प्रकार की होती है?

आज हम आप को अपने इस ब्लॉग के माद्यम से RAM के बारे में जानकारी देने जा रहा हूँ आजकल हर किसी के पास मोबाइल और कंप्यूटर होता है। मगर ज्यादा तर लोग आपने कंप्यूटर और मोबाइल खरीदते वक्त उसमें RAM कितनी है इस की जानकारी नहीं होती है।

इस लिए आज हम आप को इस बारे में पूरी जानकारी अपने इस आर्टिकल के माद्यम से देंगे। RAM होती क्या है क्या है और इसकी आवश्यकता क्यों पड़ती है।

स्टोरेज को निर्धारित करती है RAM

आप जो डिवाइस का इस्तेमाल का प्रयोग करते है उनमे 2GB, 4GB, 8GB या उससे अधिक RAM हो सकता है. जो आप की स्टोरेज को निर्धारित करती है।

जितना ज्यादा RAM आप के फ़ोन या कंप्यूटर की होगी उतना ही कंप्यूटर और फ़ोन की speed भी बढ़ जायेगी।

Random Access Memory

इस RAM का पूरा नाम Random Access Memory है. इसे computer or mobile की main memory या internal memory या read write memory भी कहा जाता है इसी के साथ यह वर्तमान में एक डिवाइस पर चल रही सभी चीज़ों को अस्थायी (temporarily) रूप से store करता है।

इसी के साथ इसमें सभी OS -serviecs, web browser, image editor, या games जो आप खेल रहे हैं वो इस पर निर्भर करते है।

short-term memory

इसी के साथ RAM एक डिवाइस की short-term memory है जो भी आप अपने data को RAM में बदल या मिटा सकते हैं. आपके RAM की क्षमता में वृद्धि करके अपने कंप्यूटर की गति बढ़ सकती है। RAM एक volatile memory है इसी के साथ जिसका अर्थ है कि कंप्यूटर बंद होने पर RAM से data मिट (delete) जाता है।

Data को Randomly Access कर सकते

इसी के साथ आपके पास जितनी अधिक RAM होगी आप एक समय में उतने अधिक programs चला सकते हैं

RAM की विशेस्ताएं क्या होती है, RAM के बिना computer अपना काम नही कर सकता है इसी के साथ यह कम्प्यूटर की प्राथमिक मेमोरी हैं इसी के साथ Data को Randomly Access कर सकते है। इस से आप का सिस्टम फ़ास्ट हो जाता है।

RAM कैसे काम करती है

आज यहां आप technicality के बारे में बात नहीं करेंगे बस आपको सरल भाषा में समझाएंगे RAM कैसे काम करता है, इसी के साथ जब आपका कंप्यूटर off होता है,

उस समय RAM बिल्कुल भी काम नहीं करता है साथ ही उस वक़्त कंप्यूटर सॉफ्टवेयर और data सभी hard disk या फिर memory card में stored होता है।

इसी के साथ आप कंप्यूटर ON करते हैं, तो सबसे पहले आप का operating system और उसे चलाने वाले programs load होते हैं. साथ ही इसके बाद हम जो applications open करते हैं, वह सभी डाटा RAM के अंदर store होता है। RAM का हमारे कंप्यूटर में बहुत अहम रोल होता है क्युकी इसे से हमारा पूरा सिस्टिम रन करता है।

CPU हमेशा RAM की मेमोरी को इस्तेमाल किया जाता

इसी के साथ किसी operation के दौरान CPU हमेशा RAM की मेमोरी को इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि RAM, hard drive की तुलना में तेज़ होती है। इसी लिए साथ ही इसी वजह से program execution के वक्त hard drive से data, RAM को स्थानांतरित हो जाता है।

आमतौर पर RAM को दो श्रेणियों में विभाजित किया गया है

पहली इसमें Static RAM (SRAM) है दूसरी Dynamic RAM (DRAM) है,

1) Static RAM

Static शब्द दर्शाता है कि हमारे कंप्यूटर में मेमोरी अपनी data को स्थिर, तब तक बरकरार रखती है जब तक कि बिजली supply की जा रही है और उसे Refresh करने की जरूरत नही पडती है। इस का हमारे कंप्यूटर में बहुत ही अहम योगदान रहता है।

साथ ही SRAM chips में टोटल 6-transistors लगे रहते हैं और कोई भी capacitor का इस्तेमाल नहीं होता है इसी के साथ इसकी memory capacity कम होने की वजह से, SRAM को Cache memory के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।

2) Dynamic RAM

दूसरे नंबर पर DRAM भी Volatile मेमोरी आती है इसमें data बनाए रखने के लिए DRAM को लगातार refresh करने की जरूरत पडती है। इसी के साथ इसमें capacitor और transistor का उपयोग करके बनाया गया है. Data, capacitors में store होता है।

इसी के साथ इसमें DDR3, DDR4 RAM इस मेमोरी का एक अच्छा उदाहरण है, आजकल के Computers, Smartphones, Tablets आदि में DRAM का ही इस्तेमाल अधिक किया जाता है।